Ek adhuri Prem Kahini


Nameless2022/07/10 04:21
Follow

Sad love story

Ek adhuri Prem Kahini

, मैं हूं आपकी दोस्तो किट्टू और में आपको सुनाने जा रही हूं सच्चा प्यार करहेल्लो दोस्तोंने वाली एक प्रेमी जोड़े की सच्ची दर्द भरी लव स्टोरी जो आपके दिल को छु जाएगी

चलिए शुरू करते हैं एक प्यार की दास्तां –

(कृष की प्रेम कहानी)

पहला प्यार-

सच्चा प्यार कभी भी और कहीं भी हो सकता हैं , प्यार एक एहसास हैं एक ख्वाब है जो बिना कहे भी बहुत कुछ कह जाता हैं , जब किसी को प्यार होता हैं तो वह यह नहीं सोचता कि इसका अंत का होगा बस वह प्यार में इस कदर डूब जाता है की उसे कुछ भी होश नहीं रहता। ऐसा इसीलिए होता हैं क्योंकि वह इंसान किसी के प्यार में इतना खो जाता हैं कि बस उसे प्यार के अलावा कुछ देखाई नहीं देता , बस वो उस हमेशा उस व्यक्ति के बारे में ही दिन-रात सोचता रहता हैं ।

ऐसी ही एक लड़के की प्रेम कहानी मैं आपको सुनाने जा रही हूं

एक लड़का था वो एक लड़की से बहुत प्यार करता था वो उस लड़की के लिए कुछ भी करने को तैयार था लेकिन दिक्कत ये थी कि लड़का बहुत गरीब घर से था , जबकि लड़की बहुत अमीर थी । और दूसरी दिक्कत यह थी की लड़का अलग कास्ट का होता है , जिस वजह से दोनो के प्यार में बहुत कठिनाई आ रही थी । वो लड़का उस लड़की से अक्सर पूछता का तुम मुझसे शादी करोगी , लड़की जवाब देती हैं मैं तुमसे ही शादी करना चाहती हूं पर मेरे घर वाले इस शादी के लिए कभी राज़ी नही होएंगे,और मैं भाग कर शादी बिल्कुल भी नही करूँगी।

(अक्सर प्यार में कास्ट आ जाती है जो सच्चे प्यार को मंजिल तक जाने से पहले ही अलग कर देती है)

यह समाज बहुत बुरा हैं हमे जीने नहीं देगा औऱ रोज़ रोज़ हमे नई नई ताने देगी । जो की हमसे सहन नही होगा।जिसे हमे हमेशा झुकना पड़ेगा।

तब लड़का कहता हैं -ठीक हैं जब मैं अपने पैरों पे खड़ा हो जाऊंगा तो तुम्हारे पापा से तुम्हरा हाँथ मागूँगा ।

लड़की हँसते हुए कहती हैं - शादी में क्या रखा हैं , क्या शादी बाद तुम्हरे लिए मेरे दिल मैं प्यार कम हो जाएगा

यह सुन कर लड़का सोच में पर जाता हैं फिर हँसते हुए कहता हैं क्या तुम शादी बाद मुझको भूल जाएगी । इस पर लड़की कहतीं हैं ऐसा कभी नही होगा ,मेरी साँसे रुक सकती हैं लेकिन तुम्हरे लिए मेरा प्यार कभी कम नही होगा

फिर धीरे-धीरे वक़्त बीतता गया और लड़की के घर वाले उसके लिए लड़का देखने लगे । जब लड़का को यह बात पता चला तो वह पागल सा हो गया वह जिससे वह बहुत प्यार करता था उस लड़की के लिए अपने दिल में नफ़रत भर लिया । वह लड़का जान बुझ कर उसे हर्ट करता था जिससे वह लड़की उससे नफरत करने लगे और ठीक वैसा ही हुआ जैसा वो लड़का चाहता था। उस लड़के ने इस किया की उस लडक़ी के दिल में नफ़रत भर गया और लड़की उससे नफ़रत करने लगी 

लडकी शादी हो जाने के बाद

उस लडक़ी की शादी किसी और से कर दी गई और वह अंदर ही अंदर बहुत दुःखी था जिस दिन उस लड़की की शादी थी उसी दिन उस लड़के ने उसकी छोटी बेहन को कॉल किया और कहा मैं जो भी कहूँगा तुम उसको फोन में रिकॉर्ड कर लेना । और जब तुम्हरी बड़ी बेहन आए तो उसे यह रेकॉर्डिंग सुना देना , उस लड़की की शादी हो गई और वह शादी के एक महीने बाद वो अपने मायके आ गई।उसकी बेहन कहती हैं दीदी आपको कुछ सुनाना हैं , वो लड़की हँस कर कहतीं हैं -क्या हैं जल्दी सुनाओ ।

जैसे ही वो उस लड़के की रिकॉडिंग चलाती हैं उसमे से रोने की आवाज आती हैं , वो अपनी बहन से कहतीं हैं ये आवाज तो कृष की लग रही हैं ना । छोटी लड़की कहती हैं दीदी जिस दिन आपकी शादी थी उसी दिन कृष का कॉल आया था , वह बहुत रो रहा था आप खुद ही सुनिए वो क्या कह रहा था फ़ोन की रेकॉर्डिंग चलने पे कृष रो-रो कर कह रहा था रीना मैं तुमसे बहुत प्यार करता हु और मैं जीते जी तुम्हारी शादी किसी और के साथ नही देख सकता । मैं तुमसे बहुत प्यार करता हू और मैं चाहता हू कि तुम अपनी जिंदगी मे आगे बढ़ो और जहाँ भी रहो हमेशा खुश रहो,

मैं तुम्हे कभी भुला नहीं सकता इतना कह कर फ़ोन कट जाता हैं , कृष की यह बात सुनकर बहुत रोती हैं और अपनी बहन पे चिलाती हैं।

तुमने मुझे क्यू नहीं बताया जिस दिन कृष का फ़ोन आया था छोटी बहन जवाब देती है , मैं क्या करती दीदी मैं तो कसमों के धागे मे बन्धी हुई थी । वह अपनी बहन उसी नम्बर पे फ़ोन लगने को कहती हैं जिस पे कृष का फ़ोन आ हुआ था । छोटी बहन पूछती हैं क्यों दीदी वो अपने बहन को जोर से डांट देती हैं, छोटी बहन कृष को फ़ोन लगती हैं दूसरी तरफ फ़ोन उठता हैं - हेल्लो , हेल्लो आँटी जी कृष कहाँ हैं ।

कृष की माँ रोने लगती हैं और कहतीं हैं की अब कृष इस दुनिया मैं नही रहा वो यह सब सुनकर चौक जाती हैं और पूछती हैं यह कब हुआ और कैसे हुआ , पता नहीं कैसे कृष ने अपने आप को जिंदगी से दूर कर लिया कसम खा ली की किसी से भी शादी नही करेगा । छोटी बहन -आँटी कब की बात हैं , कृष की माँ ने कहा - यह 20 सितंबर की बात हैं बेटा।

यह सब सुनकर वो लड़की फ़ोन काट देती हैं । वो सारी बात अपनी बड़ी बहन को बता देतीं हैं और कहती हैं मेने कृष की बातो पे भरोसा क्यो नहीं किया। मेरा हर्ष आज मेरे से दूर नही होता अगर मैं उसके बातों पे भरोसा कर लेती तो।

Deep lines - प्यार तो कभी भी हो सकता हैं लेकिन सच्चा प्यार बहुत मुश्किल से मिलता हैं ।प्यार एक सुहावना मौसम है जो जिंदगी खुशहाल बना देता है लोग दोस्त को जिंदिगी समझते हैं और प्यार को अपना जीवन जिसके सहारे वो अपने पूरे जिंदिगी को अपने प्यार को नाम कर देते हैं । ये प्यार दुनिया का वो virus हैं जो कभी भी कुछ भी कर सकता हैं , इसीलिए प्यार ऐसे इंसान से करो जो तुम्हारे फ़ीलिंग को समझें और उसका क़दर करे ।

Frds, आपको कहानी कैसी लगी हमे आप अपने कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं

ऐसी ही और सच्ची प्रेम कहानियों के लिए इस पेज को फ़ॉलो करें।

Thanks ......

Follow

Support this user by bitcoin tipping - How to tip bitcoin?

Send bitcoin to this address

Comment (0)